home page

बैंक ग्राहकों को मिली अहम जानकारी, इन कागजों के बिना काम में होगी दिक्कत

सरकार ने नकद निकालने वाली सीमा को लेकर संशोधन कर दिया है और एक वित्तीय वर्ष में एक या एक से अधिक बैंकों में बड़ी मात्रा में पैसा जमा करने को लेकर पैन कार्ड और आधार कार्ड (pan card and aadhar card) को भी अहम माना जा रहा है।
 | 
बैंक ग्राहकों को मिली अहम जानकारी, इन कागजों के बिना काम में होगी दिक्कत

सरकार ने नकद निकालने वाली सीमा को लेकर संशोधन कर दिया है और एक वित्तीय वर्ष में एक या एक से अधिक बैंकों में बड़ी मात्रा में पैसा जमा करने को लेकर पैन कार्ड और आधार कार्ड (pan card and aadhar card) को भी अहम माना जा रहा है।

इसका मतलब माना जाता है कि अब आपको बड़ी रकम जमा करते समय पैन कार्ड और आधार कार्ड दिखाना अहम हो जाता है। इतना ही नहीं नकद भुगतान करने या निर्धारित सीमा से ज्यादा नकद प्राप्त करने पर भारी जुर्माने को लेकर प्रावधान हो चुका है।

नए नियमों को लेकर देखा जाए तो अब बैंकों में 20 लाख रुपये से ज्यादा जमा करने या निकालने पर पैन या आधार देना अहम हो चुका है। 10 मई 2022 को सरकार ने एक अधिसूचना जारी को लेकर नियम लागू कर दिया गया था।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने आयकर नियम 2022 को लेकर नए नियम जारी कर दिया है। इन नए नियमों के लागू होने के साथ यदि कोई व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में कुल 20 लाख रुपये या उससे अधिक की राशि जमा करने जा रहे है। किसी भी बैंकिंग कंपनी, सहकारी बैंक या डाकघर में एक या अधिक खातों में उसके लिए पैन और आधार कार्ड होना जरूरी किया जाएगा।

जिनके पास पैन कार्ड नहीं है उन्हें एक दिन में 50,000 रुपये से अधिक किसी भी लेनदेन में कम से कम सात दिन पहले पैन के लिए आवेदन करना होगा। इसी प्रकार यदि कोई व्यक्ति किसी बैंकिंग कंपनी, सहकारी बैंक या डाकघर के एक या अधिक खातों से एक वित्तीय वर्ष में कुल 20 लाख रुपये या उससे अधिक की राशि निकालता है तो उसे पैन या आधार कार्ड देना होगा।