home page

ATM कार्ड पर ग्राहकों को मिलता है 5 लाख का बीमा, ऐसे कर सकते हैं क्लेम

यदि आपका बचत खाता है, तो आपको एटीएम कार्ड जरूर मिला होगा। एटीएम कार्ड के जरिए आप कहीं भी पैसे निकाल सकते हैं।
 | 
ATM कार्ड पर ग्राहकों को मिलता है 5 लाख का बीमा, ऐसे कर सकते हैं क्लेम

यदि आपका बचत खाता है, तो आपको एटीएम कार्ड जरूर मिला होगा। एटीएम कार्ड के जरिए आप कहीं भी पैसे निकाल सकते हैं। एटीएम कार्ड से आप केवल पैसों का लेनदेन नहीं बल्कि शॉपिंग और इन्वेस्टमेंट जैसी चीजें भी आसानी से कर सकते हैं।

एटीएम कार्ड में ग्राहकों को पैसे और शॉपिंग के अलावा कई अन्य फायदे भी मिलते हैं जिनकी जानकारी ज्यादातर लोगों को नहीं होती। क्या आप जानते हैं कि एटीएम कार्ड होल्डर की मौत या दुर्घटना की स्थिति में यह आश्रितों का सहारा भी साबित हो सकता है.

एटीएम कार्ड के साथ मिलता है फ्री दुर्घटना बीमा

दरअसल, एटीएम कार्ड के साथ आपको फ्री दुर्घटना बीमा मिल जाता है। यदि आपके पास किसी भी सरकारी या प्राइवेट बैंक का एटीएम कार्ड है तो आपका अपने आप ही दुर्घटना बीमा हो जाता है। यह बीमा 25000 रूपये से लेकर 500000 रूपये तक होता है। हलाकि जानकारी के अभाव के कारण कई लोग इस बीमा को क्लेम नहीं कर पाते।

अलग-अलग कार्डो के हिसाब से है राशि

एटीएम कार्ड की कैटेगरी के हिसाब से बीमा की राशि तय की जाती है। क्लासिक कार्ड पर ग्राहकों को 100000 रूपये, प्लेटिनम कार्ड पर 200000 रूपये, सामान्य मास्टर कार्ड पर 50000 रूपये, प्लैटिनम मास्टर कार्ड पर 500000 रूपये, और वीजा कार्ड पर 1.5 से 200000 रूपये तक का बीमा कवरेज मिलता है।

प्रधानमंत्री जन धन अकाउंट पर मिलने वाले रुपे कार्ड के साथ ग्राहकों को 1 से 200000 रूपये का दुर्घटना बीमा मिलता है।

कैसे मिलता है दुर्घटना बीमा का क्लेम?

यदि किसी एटीएम कार्ड होल्डर की दुर्घटना में मौत हो जाती है तो कार्ड होल्डर के नॉमिनी को बैंक की उस ब्रांच में जाना होगा जहां उस शख्स का अकाउंट था। यहां नॉमिनी को मुआवजे को लेकर एक एप्लीकेशन देनी होगी। बैंक में जरूरी दस्तावेज जमा करने के बाद नॉमिनी को बीमा का क्लेम मिल जाता है।

ध्यान रखने योग्य बात यह है कि बैंकों के एटीएम कार्ड का उपयोग करने के 45 दिनों के भीतर मौत या दुर्घटना होने पर बीमा पॉलिसी के तहत संबंधित व्यक्ति के आश्रित मुहावरों के लिए क्लेम कर सकते हैं।