home page

Indian Railway: आपकी ट्रेन डायवर्ट होने के बाद कैसे ले रिफंड? जानें इस प्रोसेस को डिटेल

भारतीय रेलवे से एक दिन में लाखों यात्री सफर करते हैं। ऐसे में रेलवे उन्हें कई सुविधाएं प्रदान करती है।
 | 
Indian Railway: आपकी ट्रेन डायवर्ट होने के बाद कैसे ले रिफंड? जानें इस प्रोसेस को डिटेल

भारतीय रेलवे से एक दिन में लाखों यात्री सफर करते हैं। ऐसे में रेलवे उन्हें कई सुविधाएं प्रदान करती है। जिससे यात्रियों की यात्रा सुविधाजनक बन सके। रेलवे यात्रियों को ऑनलाइन टिकट बुक करने से लेकर टिकटों पर रिफंड की सुविधा उपलब्ध कराती है जिससे यात्री को यात्रा में आसानी होती है।

यात्री IRCTC वेबसाइट से टिकट पर बीमा ले सकते हैं। इसके साथ ही तत्काल टिकट की सुविधा भी आपको मिल जाती है। कई यात्री आरक्षण टिकट लेने के बाद भी यात्रा नहीं करते हैं ऐसे में रेलवे उन्हें रिफंड का विकल्प उपलब्ध कराती है। टिकट पर रिफंड लेने के लिए यात्री IRCTC की वेबसाइट पर जाके TDR भर सकते हैं।

टिकट रद्द होने या फिर ट्रैन डायवर्ट होने की स्थिति में रेलवे से रिफंड मिल जाता है:

यदि रेलवे ट्रेन को डायवर्ट करती है तो भी टिकट पर रिफंड लिया जा सकता है। रेलवे की वेबसाइट पर उप्लब्ध कराई गई जानकारी की माने तो यदि ट्रेन के मार्ग को डायवर्ट कर दिया गया हो और ट्रेन आपके निर्धारित स्टेशन से नहीं गुजरती है, तो आप ट्रेन के टिकट पर रिफंड की मांग कर सकते हैं। इसके लिए आपको 72 घंटों के भीतर-भीतर TDR दर्ज करवाना पड़ेगा।

टीडीआर क्या है:

टीडीआर यानी ‘टिकट जमा रसीद’, जो भारतीय रेलवे या आईआरसीटीसी द्वारा बुक किए गए टिकटों पर दावा करने की प्रक्रिया है। आप TDR फाइल करने के लिए IRCTC की वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं। आपको रिफंड 60 दिन की समय अवधि में मिल जाएगा।

रिफंड मिलने की प्रक्रिया:

रेलवे वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार, टीडीआर दाखिल करने के बाद, आपको रेलवे से ई-मेल और एसएमएस के माध्यम से टिकट रद्द होने की जानकारी उप्लब्ध कराई जाती है। इसके साथ ही इसमें 60 दिनों में रिफंड मिलने की समय सीमा के बारे में बताया जाता है। रेलवे अपनी कुछ चार्ज की कटौती करने के बाद रिफंड दे देती है।