home page

PM Kisan Yojna की होगी जांच, जानें किन किसानों से होगी रकम की वसूली

PM Kisan Yojna: पीएम किसान योजना को लेकर सरकार अब काफी सख्त हो गई है।
 | 
PM Kisan Yojna की होगी जांच, जानें किन किसानों से होगी रकम की वसूली

PM Kisan Yojna: पीएम किसान योजना को लेकर सरकार अब काफी सख्त हो गई है। सरकार ने अब इस योजना की जांच का आदेश दे दिया है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से देश के 10 करोड़ से ज्यादा किसानों ने रजिस्टर किया है।

इस योजना के तहत केंद्र सरकार किसानों के खाते पर सीधे ₹2000 की तीन किस भेजती है। यानी कि सालाना किसानों को ₹6000 की रकम दी जाती है। लेकिन अब इस योजना का गलत तरीके से इस्तेमाल किया जा रहा है इसलिए सरकार ने पंजीकृत किसानों के कागजात की जांच का आदेश दे दिया है।

सरकार का आदेश:

मीडिया रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने पीएम किसान योजना के तहत लाभ उठा रहे किसानों के जमीन की जांच का आदेश दे दिया है। यानी कि अभी लाभार्थी किसानों के कागजात की जांच की जाएगी। उत्तर प्रदेश कृषि विभाग के अधिकारियों ने यह जांच का आदेश दिया है कि सभी किसानों के लैंड रिकॉर्ड की जांच की जाए।

इस जांच से सरकार या पता लगाना चाहती है कि जिन किसानों को इस योजना के तहत लाभ मिल रहा है वह इसके हकदार हैं या नहीं। जिला राजस्व एवं कृषि विभाग ने प्रयागराज से इस जांच की शुरुआत भी कर दी है, जिसके तहत 6.96 लाभ किसानों को लिया गया है।

किसानों से को जाएगी वसूली:

अभी तक की रिपोर्ट में यह सामने आया है कि प्रयागराज जिले में कई ऐसे आवेदन मिले हैं जिन्होंने फर्जी दस्तावेज के आधार पर इस योजना का लाभ उठाएं अधिकारियों ने बताया है कि ऐसे आवेदनों को अब खारिज कर दिया जाएगा।

वहीं आगे इस तरह की धोखाधड़ी को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार किसानों के दस्तावेज की जांच करेगी। इस रिपोर्ट में यह बताया गया है कि प्रयागराज में ही कुल 6.96 लाख ऐसे लोग हैं। जिन्होंने इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करवाया था और अब उन सभी के जमीनों की जांच शुरू हो गई है।

अगर इसमें से कोई भी किसान फर्जी तरीके से इस योजना का लाभ उठाते पाया गया तो उससे सभी किस्तों की वसूली की जाएगी। दरअसल इस योजना के तहत लाभ उठा रहे किसानों को कुछ नियमों का पालन करना होता है। अगर इन नियमों में से किसी एक का खंडन पाया गया तो वह इस योजना का फायदा नहीं उठा पाएंगे।