home page

Ration Card Update: कार्ड धारकों के लिए बुरी खबर, ऐसे लोगो का कट रहा सूची से नाम, कहीं आप भी तो नहीं !

राशन कार्ड में हो रही गड़बड़ी को देखते हुए अब इसपर सरकार सख्त हो गई है। पिछले दिनों खबर सामने थी कि सरकार सभी अपात्र लोगो से वसूली करेगी।
 | 
Ration Card Update: कार्ड धारकों के लिए बुरी खबर, ऐसे लोगो का कट रहा सूची से नाम, कहीं आप भी तो नहीं !

राशन कार्ड में हो रही गड़बड़ी को देखते हुए अब इसपर सरकार सख्त हो गई है। पिछले दिनों खबर सामने थी कि सरकार सभी अपात्र लोगो से वसूली करेगी।

हालांकि जैसे ही मामले ने तूल पकड़ा तो इस पर सरकार ने बयान जारी कर बताया कि सरकार ने वसूली पर कोई आदेश नहीं दिया है। लेकिन एक बार फिर सरकार एक्शन में दिख रही है। सरकार सभी अपात्र कार्ड धारकों के नाम सूची से हटा रही है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राशन कार्ड का निरस्तीकरण कार्यक्रम शुरू कर दिया है। सरकार सभी अपात्र लोगों का नाम काटकर उनकी जगह पात्र व्यक्ति के नाम राशन कार्ड योजना में जोड़ रही है। दरअसल, साल 2011 की जनगणना के अनुसार राशन कार्ड बनाने का लक्ष्य पूरा हो चुका है।

अब नए राशन कार्ड नहीं बनाए जा सकते। ऐसे में सरकार जरूरतमंद लोगों को फ्री राशन देने के लिए अपात्र लोगों का नाम काटकर उनकी जगह पात्र लोगों के नाम जोड़ रही है। इसकी शुरुआत यूपी के अलग-अलग जिलों में हो चुकी है।

किस आधार पर जोड़े जा रहे नाम?

बता दें सरकार राशन कार्ड योजना में नए नाम नही जोड़ सकती इसी वजह से अपात्रों को हटाकर उनकी जगह नए लोगों के लिए स्पेस बनाया जा रहा है।

2021 में नहीं हुई जनगणना

गौरतलब है कि साल 2021 में कोरोना महामारी के चलते जनगणना नहीं हो पाई थी। इसलिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के लिए जनसंख्या अनुपात को बढ़ाना जरूरी हो गया है जिससे शहरी-गरीबों को योजना का लाभ मिल सके।

ऐसे में योगी सरकार ने एक नया तरीका निकाला है. इसके तहत प्रदेश के जिला पूर्ति कार्यालय और तहसील स्तर के पूर्ति कार्यालय में आने वाले नए राशन कार्ड के आवेदन को जमा कर लिया जाता है और पात्रों की जगह उनको राशन कार्ड योजना में जोड़ा जाता है।