अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

60 साल के उम्र वालो की हुई मौज, मिलेगी 10 हजार रुपये की पेंशन

न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

Atal Pension Yojana : मोदी सरकार के द्वारा कम इनकम वालों को अटल पेंशन स्कीम को शुरु किया जा रहा है। इस स्कीम की पॉपुलटी ऐसी हैं कि इससे अभी तक करोड़ो लोग जुड़ चुके हैं। इस साल इस स्कीम से 79 लाख से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं।

सरकार की इस स्कीम के तहत 60 साल से ज्यादा आयु के लोगों को मैक्जिमम 5 हजार रुपये मंथली की इनकम होती है। वहीं हस्बैंड और वाइफ अलग-अलग आवेदन के द्वारा मंथली 10 हजार रुपये का इंतजाम कर सकते हैं।

अटल पेंशन स्कीम में 18 साल से 40 साल की आयु का कोई भी नागरिक भाग ले सकता है। इस स्कीम में कम से कम 20 साल मंथली कंट्रीब्यूशन करना जरुरी है।

अटल पेंशन स्कीम की शुरुआत मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के समय 9 मई 2015 में की गई थी। इस स्कीम को शुरु करने के पीछे सरकार का उद्देश्य था कि देश के कमजोर वर्ग को बुढ़ापे में समाजिक सेफ्टी का लाभ मिल सकें।

इस स्कीम को खासतौर पर प्राइवेट सेक्टर में काम करने वालों के लिए ही शुरु किया है। इसमें निवेश करके आप 60 साल की आयु के बाद 1 हजार रुपये से लेकर 5 हजार रुपये तक की पेंशन प्राप्त कर सकते हैं। पेंशन की रकम आपके निवेश पर डिपेंड करती है।

पेंशन के अलग है स्लैब

इस समय पेंशन के 5 स्लैब हैं जिसमें 1 हजार रुपये मंथली, 2000 रुपये मंथली, 3000 रुपये मंथली, 4 हजार रुपये मंथली और 5000 रुपये मंथली हैं। जैसा कि सरकार की तरफ से संकेत मिल रहे हैं। आने वाले दिनों में ये स्लैब 2 हजार, 4 हजार, 6 हजार रुपये और 10 हजार रुपये के हो सकते हैं।

1 हजार रुपये से लेकर 5 हजार रुपये की पेंशन के लिए इस स्कीम में निवेश का अमाउंट भी अलग अलग है। निवेश की गई रकम पर आपके आयु पर डिपेंड करती है यदि आप कम आयु में स्कीम से जुड़ते हैं तो निवेश की रकम भी कम होगी।

नियम के मुतबिक स्कीम से कम से कम 18 साल का कोई भी शख्स जुड़ सकता है। 18 साल की आयु में मैक्जिमम लिमिट 5 हजार रुपये मंथली के लिए उसे 210 रुपये मंथली कंट्रीब्यूशन करना होता है।

25 साल की आयु में जुड़ने पर हर महीने 376 रुपये, वहीं 30 साल वालों के लिए ये कंट्रीब्यूशन 577 रुपये, 35 साल वाले के लिए 902 रुपये और 39 साल वालों के लिए 1318 रुपये है। अगर अलग खाता खुलवाते हैें तो अलग अलग पैसा जमा करना होता है।

कैसे हर महीने मिलेंगी 10 हजार रुपये

यदि आप शादीशुदा हैं तो स्कीम के तहत 2 खाता ओपन करा सकते हैं तो ये शर्त है कि दोनों में से किसी के पास पेंशन स्कीम नहीं होनी चाहिए। आपको खाते में मैक्जिमम पेंशन की रकम के लिए कंट्रीव्यूशन करना होगा। आपकी तरफ से जितना भी योगदान हर महीने किया जाता है।

सरकार भी जितना अंशदान अपनी तरफ से करती है अलग-अलग खाते के द्वारा स्कीम के हिसाब से करना होगा। सब्सक्राइबर्स की मौत होने पर नॉमिनी को पेंशन रकम दी जाती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.