अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

इन दो इलेक्ट्रिक स्कूटर ने कर दिया बाकी स्कूटर का बेडा गर्क, आसपास भी नहीं टिकने दिया

ऑटो डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

इसी साल 15 अगस्त, 2023 को ओला इलेक्ट्रिक ने ‘End Ice Age’ प्रोग्राम शुरू किया था। इस बात को कंपनी ने आंकड़ों में तब्दील भी किया है। दरअसल, नवंबर 2023 में जिन टॉप-10 स्कूटर्स की बिक्री सबसे ज्यादा रही उसमें होंडा एक्टिवा का नाम सबसे ऊपर है।

हालांकि, इस टॉप-10 की लिस्ट ओला इलेक्ट्रिक S1 और टीवीएस आईक्यूब अपनी उपस्थिति दर्ज कराने में कामयाब रही हैं। इनके सामने हीरो, होंडा, सुजुकी जैसी कंपनियों के मॉडल बेअसर दिखे।

पिछले महीने टॉप-10 स्कूटर की लिस्ट में ओला इलेक्ट्रिक S1 पांचवें स्थान पर रहा। इसके सामने, होंडा डिओ, हीरो प्लेजर, सुजुकी बर्गमैन और हीरो डेस्टिनी जैसे मॉडल पीछे नजर आए।

जबकि, टीवीएस आईक्यूब की डिमांड सुजुकी बर्गमैन और हीरो डेस्टिनी से ज्यादा रही। नवंबर में ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर की लगभग 30 हजार यूनिट बिकीं।

जबकि टीवीएस आईक्यूब की 16,702 यूनिट बिकीं। इसकी तुलना में सुजुकी बर्गमैन की 12,941 यूनिट और हीरो डेस्टिनी की 12,756 यूनिट बिकीं।

टीवीएस आईक्यूब के फीचर्स

टीवीएस आईक्यूब इलेक्ट्रिक स्कूटर 7-इंच टीएफटी टचस्क्रीन, क्लीन यूआई, इनफिनिटी थीम पर्सनलाइजेशन, वॉयस असिस्ट, एलेक्सा स्किलसेट, इंट्यूटिव म्यूजिक प्लेयर कंट्रोल, ओटीए अपडेट, चार्जर के साथ प्लग-एंड-प्ले कैरी के साथ फास्ट चार्जिंग, सेफ्टी इंफोर्मेशन, ब्लूटूथ और क्लाउड कनेक्टिविटी ऑप्शन, 32 लीटर स्टोरेज स्पेस जैसी फीचर्स के साथ आता है।

इसमें 5.1 kWh बैटरी पैक मिलता है, जिसकी रेंज 140 किमी है। टीवीएस आईक्यूब में 5-वे जॉयस्टिक इंटरएक्टिविटी, म्यूजिक कंट्रोल, व्हीकल हेल्थ के साथ प्रोएक्टिव नोटिफिकेशन, 4G टेलीमैटिक्स और ओटीए अपडेट मिलता है। ये 1.5kW फास्ट-चार्जिंग सपोर्ट करता है।

इसका स्मार्टकनेक्ट प्लेटफॉर्म को बेहतर नेविगेशन सिस्टम, टेलीमैटिक्स यूनिट, एंटी-थेफ्ट और जियोफेंसिंग जैसी सुविधाएं देता है।

ओला ई-स्कूटर के फीचर्स

कंपनी ने S1 सीरीज में नया एयर मॉडल शामिल किया है। ये कंपनी का सबसे सस्ता इलेक्ट्रिक स्कूटर भी है। इतना ही नहीं, इस सस्ते मॉडल में कंपनी ने एक बड़ा चेंज किया है जिससे ग्राहकों की बचत होगी।

साथ ही, पीछे बैठने वाले पैसेंजर की सेफ्टी भी हो गई है। दरअसल, ओला अपने स्कूटर में बैक पैसेंजर के लिए सीट के पास सपोर्टिंग एंगल दे रही है। लेकिन ये एंगल पीछे तक नहीं जाते।

जिससे बैठने वाले के मन में गिरने का डर बना रहता है। हालांकि, कंपनी ने इस कमी को S1 एयर में खत्म कर दिया है। इसके साथ कंपनी ने सामने की तरफ फ्लैट फुटरेस्ट भी कर दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.