अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

बिजनेस शुरू करने के लिए एक झटके में सरकार दे रही 10 लाख रुपये का फायदा, जानें डिटेल

न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

आपके पास सरकारी या प्राइवेट नौकरी नहीं तो फिर धक्के खाने की जरूरत नहीं है। सरकार की तरफ से बिजनेस शुरू करने के लिए अब कई धाकड़ स्कीम का आगाज किया गया है, जो हर किसी का दिल जीतने के लिए काफी है।

आपको स्कीम से इतनी रकम मिल जाएगी, जिससे आप मालामाल होने का सपना साकार कर सकते हैं। इतना ही नहीं सरकार की सहयता से आप कोई ठीठ-ठाक बिजनेस खड़ा कर हर महीने के हिसाब से मोटी रकम कमा सकते हैं जो मौका आपने हाथ से गंवाया तो फिर पछतावा करना होगा।

सरकार द्वारा शुरू की गई स्कीम का नाम पीएम मुद्रा लोन योजना है। इस योजना के तहत आपको 10 लाख रुपये की रकम दी जाएगी, जिससे कोई भी बिजनेस खड़ा कर अमीर बनने का सपना पूरा कर सकेंगे।

इसलिए जरूरी है कि आप तनिक भी यह मौका हाथ से ना जानें दें। योजना की खासियत जानने के लिए आप हमारा आर्टिकल ध्यान से पढ़ लें।

पीएम मुद्रा लोन योजना के तहत कैसे प्राप्त करें लाभ

केंद्र की मोदी सरकार की तरफ से चलाई जा रही पीएम मुद्रा लोन योजना हर किसी को अमीर बनाने का काम कर रही है। सरकार बिजनेस शुरू करने के लिए ठीक ठाक लोन दे रही है, जो अमीर बनाने का काम कर रही है।

इस लोन को तीन कैटेगरी में बांटा गया है। इसे शिशु लोन, किशोर लोन और तरुण लोन में बांटा गया है जो किसी सुनहरे ऑफर की तरह है। जैसा लोन वैसा ही लोगों को फायदा मिलेगा। शिशु लोन के तहत लोगों को 50 हजार रुपये तक का लोन दिया जाता है।

इसके साथ ही अगर आप किशोर लोन का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको 50 से 5 लाख रुपये तक का फायदा मिल जाएगा। इसके अलावा तरुण लोन में आपको 5 से 10 लाख रुपये तक का फायदा मिल सकेगा। यह मौका तनिक भी हाथ से ना जाने दें।

जानिए कौन कर सकता आवेदन

पीएम मुद्रा लोन योजना में गैर-कृषि कारोबार जैसे मैन्युफैक्चरिंग, ट्रेडिंग और सर्विसेज के लिए लोन दिया जा रहा है। इसमें नया व्यापार शुरू करने वाले और मौजूदा समय में व्यापार कर रहे दोनों ही लोग 10 लाख रुपये तक के लोन के लिए आवेदन करने का काम कर सकते हैं जिससे किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी।

लोन के लिए आप वित्तीय संस्थान जैसे बैंक, एबीएफसी और माइक्रो फाइनेंस संस्थानों के पास आवेदन करने का काम कर सकते हैं। कर सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.