अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

पोस्ट ऑफिस की इन स्कीम्स में मिलेगा छप्पर फाड़ पैसा, सरकार भी करने जा रही चौंकाने वाला ऐलान

न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

अब साल का आखिरी महीना चल रहा है, जिसके 5 दिन बाद अब नया साल शुरू हो जाएगा। सरकार नए साल से पहले अब किसी भी दिन छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज की दरों में बढ़ोतरी करने का ऐलान कर सकती है।

सरकार की तरफ से चलाई जा रही स्मॉल सेविंग स्कीम की गिनती ममें पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम, पोस्ट ऑफिस रेकरिंग डिपॉजिट, में कई धाकड़ स्कीम लोगों के बीच गर्दा मचा रही हैं।

पोस्ट ऑफिस में PPF, NSC, KVP बड़ी स्कीम में गिनी जाती हैं। सरकार इन स्कीम पर जल्द ही ब्याज की दरों को तय करने वाली है। कुछ साल पहले ही सरकार ने 5 साल की पोस्ट ऑफिस की आरडी पर ब्याज बढ़ाने का फैसला लिया था।

जानिए कैसे तय की जाती हैं छोटी योजनाओं पर ब्याज दर

केंद्र सरकार की ओर से चलाई जा रही स्मॉल सेविंग स्कीम पर बेहतरीन तरीके से ब्याज दरें निर्धारित की जाती हैं, जिन्हें जानना आपके लिए बहुत ही बहुत ही जरूरी है। 10 साल की सरकारी सिक्योरिटीज में लोगों को 7 प्रतिशत से लेकर 7.2 प्रतिशत का यील्ड प्रदान की जा रही है।

इसके 7.1 प्रतिशत से 7.2 प्रतिशत तक रहने की संभावना है। इसके साथ ही महंगाई दर भी 5 से 6 प्रतिशत के बीच रहने की उम्मीद है। ऐसे में स्मॉल सेविंग स्कीम में बदलाव की जानी की उम्मीद है। सरकार किसी स्कीम पर कितना ब्याज दे रही है, यह दरें आप आराम से जान सकते हैं जो हर किसी का दिल जीतने के लिए काफी है। इसलिए आप जरूरी बातों को जानना बहुत ही जरूरी होगा।

छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरें

  • 1 साल की पोस्ट ऑफिस पर ब्याज दर 6.9 फीसदी।
  • 2 साल की पोस्ट ऑफिस एफडी पर ब्याज दर 7 फीसदी।
  • 3 साल की पोस्ट ऑफिस एफडी पर ब्याज दर 7 फीसदी।
  • 5 साल की पोस्ट ऑफिस एफडी 7.5 फीसदी।
  • 5 साल की रेकरिंग डिपॉजिट पर ब्याज दर 6.7 फीसदी।
  • राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र पर ब्याज दर 7.5 फीसदी(115 महीने में होंगे मैच्योर)
  • पीपीएफ पर ब्याज दर 7.1 फीसदी।
  • सुकन्या समृद्धि योजना पर ब्याज दर 8.0 फीसदी।
  • वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर ब्याज दर 8.2 फीसदी।
  • मंथली इनकम स्कीम पर ब्याज दर 7.4 फीसदी।
Leave A Reply

Your email address will not be published.