अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

नकली नूडल से हो रही भारतीयों की सेहत खराब, हो रही पेट संबंधी समस्या 

न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

अगर आप भी नेपाल से लाए गए नूडल के शौकीन हो तो सर्तक हो जाए। कहीं नेपाल की नकली नूडल आपकी सेहत न बिगाड़ दें। नेपाल में नकली मैगी की खेप मिलने के बाद पाटन उच्च न्यायालय ने एक कंपनी पर प्रतिबंध लगा दिया है।

नेपाल में तैयार होने वाले नूडल का भारत बहुत बड़ा बाजार है। बात अगर सीमांत जनपद की करें तो यहां सीमा से लगे इलाकों में तो नेपाल की नूडल की यहां खासी डिमांड है। सीमावर्ती क्षेत्रों में होने वाले लोग तो नूडल का सेवन करते ही हैं, साथ ही खरीदारी को उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय से आने वाले लोग भी पेटी की पेटी नूडल खरीद कर ले जाते हैं।

इसके अलावा छोटे होटल-ढाबों में भी नेपाल की नूडल ही ज्यादा बिकती है। नेपाल के वरिष्ठ मोहन सिंह बताते हैं कि झूलाघाट से लेकर धारचूला तक रोजाना 50 ये अधिक नूडल के पेटियां भारतीय खरीदकर ले जाते हैं।

ऐसे में अगर नेपाल की नकली नूडल यहां तक पहुंची तो लोगों का स्वास्थ्य गड़बड़ा सकता है। झूलाघाट के कुछ क्षेत्रों में इसका असर भी दिखाई देने लगा है। कई लोग पेट संबंधी समस्या को लेकर मरीज अस्पतालों में पहुंच रहे हैं

छह माह पूर्व मिली थी नकली नूडल की खेप

नेपाल में छह माह पूर्व नकली नूडल की खेप बरामद हुई थी। जिसके बाद मामला पाटन उच्च न्यायालय में चला। बीते रोज कोर्ट ने आमजन के स्वास्थ्य को देखते हुए उक्त कंपनी पर प्रतिबंध लगाया है।

नकली नूडल के सेवन से पेट की बीमारियां हो सकती हैं। बीते कुछ दिनों से पेट संबंधी रोगियों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। कई रोगी भी इलाज को अस्पताल पहुंच रहे हैं। 

डॉ. दिव्या नाथ, प्रभारी झूलाघाट।

Leave A Reply

Your email address will not be published.