अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

अब टेस्ला नहीं रही नंबर-1 ईवी मेकर, चीनी कंपनी BYD के सिर बंधा नंबर-1 का सेहरा

ऑटो डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

दरअसल, टेस्ला को चीनी कंपनी BYD ने चौथी तिमाही में ग्लोबल इलेक्ट्रिक कार सेल्स के मामले में पीछे छोड़ दिया है। इस तरह दुनिया की नंबर-1 इलेक्ट्रिक कार कंपनी के तौर पर टेस्ला ने अपनी पोजीशन भी गवां दी है। अब नंबर-1 का सेहरा BYD के सिर बंध गया है।

बता दें कि दुनियाभर में इलेक्ट्रिक कारों की बिक्री का ग्राफ तेजी से ऊपर गया है। इसके बाद भी टेस्ला ने अपनी पोजीशन गवां दी।

एलन मस्क के स्वामित्व वाली कंपनी टेस्ला ने कहा कि उसने चौथी तिमाही में 484,507 से अधिक इलेक्ट्रिक व्हीकल की डिलीवरी की। उसने विश्लेषकों के 483,173 यूनिट के अनुमान को पीछे छोड़ दिया। दूसरी ओर BYD जो हाइब्रिड और पूर्ण बैटरी ऑपरेटेड दोनों कारों का प्रोडक्शन करती है।

उसने इस तिमाही में 526,409 इलेक्ट्रिक कार बेचीं। इस तरह वो ईवी मार्केट का नई नंबर-1 कंपनी बन गई।

अमेरिकी ईवी मैन्युफैक्चरर ने कहा कि कंपनी ने इस साल के लिए 1.8 मिलियन व्हीकल डिलीवर करने के अपने लक्ष्य को पार कर लिया है। साल के आखिरी का प्रदर्शन विश्लेषकों की उम्मीदों से बेहतर रहा, क्योंकि 2022 में इसी अवधि की तुलना में बिक्री 20% बढ़ी।

इससे पहले, टेस्ला के CEO मस्क ने कहा था कि कंपनी के पास 2 मिलियन कारों का प्रोडक्शन करने की क्षमता है। इतने प्रोडक्शन का समर्थन करने के लिए पर्याप्त डिमांड को बढ़ावा देने के लिए उसने कीमतों में कटौती भी की, लेकिन इससे बात नहीं बनी।

न्यूयॉर्क में मंगलवार को रेगुलर ट्रेडिंग शुरू होने से पहले टेस्ला के शेयर लगभग 1% बढ़ गए। पिछले साल स्टॉक 102% बढ़ गया, 2022 में मस्क के ट्विटर (अब X) के अधिग्रहण से जुड़े रिकॉर्ड नुकसान से उबर गया।

नए ईवी सेल्स आंकड़े ग्लोबल ऑटोमोटिव इंडस्ट्री में चीन के बढ़ते दबदबे को दर्शाते हैं। पिछले कुछ वर्षों में अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जर्मनी को पछाड़ने के बाद, देश 2023 में दुनिया के सबसे बड़े पैसेंजर-कार एक्सपोर्टर के तौर पर जापान से आगे निकल सकता है।

हालांकि, BYD ने शीर्ष स्थान पर कब्जा कर लिया है। वैसे, टेस्ला चीनी वाहन निर्माता की तुलना में अधिक राजस्व और लाभ उत्पन्न करता है, क्योंकि यह बहुत अधिक कीमत वाले वाहन बेचता है। कंपनी अपनी बिक्री में बड़ी हिस्सेदारी के लिए दो मॉडल पहला मॉडल Y SUV और दूसरा मॉडल 3 सेडान पर निर्भर है।

चौथी तिमाही में दोनों मॉडलों की डिलीवरी 95% रही। टेस्ला अपने इलेक्ट्रिक साइबरट्रक की सेल्स भी शुरू कर चुकी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.