अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

इस तरह की महिलाएं में मर्दो से भी 4 गुना ज्यादा होती है इस चीज़ की तड़प

न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

आचार्य चाणक्य ने अपने उपदेशों में स्त्री, पुरुष, भविष्य, मित्रता और धन जैसी विभिन्न चीजों के बारे में बात की। लेकिन एक विशेष कविता में उन्होंने चार ऐसे गुणों के बारे में बताया जहां महिलाएं पुरुषों से बेहतर होती हैं।

महिलाओं के लिए, उन्हें आम तौर पर खाए जाने वाले भोजन की दोगुनी मात्रा खाने की ज़रूरत होती है, और उनके पास पुरुषों की तुलना में तीन गुना अधिक बुद्धि होती है। और पुरुषों में महिलाओं की तुलना में छह गुना अधिक ताकत होती है।

आचार्य चाणक्य नामक एक बुद्धिमान व्यक्ति ने कहा था कि महिलाओं को पुरुषों की तुलना में अधिक भूख लगती है और उन्हें अपने शरीर के कारण अधिक भोजन करने की आवश्यकता होती है। इसलिए महिलाओं के लिए यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि वे पेट भरा हुआ महसूस करने के लिए पर्याप्त भोजन करें।

आचार्य चाणक्य के अनुसार महिलाएं वास्तव में चतुर और चतुर होती हैं। उनके पास एक विशेष प्रकार की बुद्धि होती है जो पुरुषों से भी बेहतर होती है। महिलाएं अपनी बुद्धि का उपयोग करके समस्याओं का समाधान ढूंढने में वाकई बहुत अच्छी होती हैं।

आचार्य चाणक्य का मानना ​​है कि लोग अक्सर सोचते हैं कि पुरुष महिलाओं से ज्यादा बहादुर होते हैं। लेकिन आचार्य चाणक्य इसके विपरीत सोचते हैं। उनका कहना है कि महिलाएं वास्तव में पुरुषों की तुलना में छह गुना अधिक बहादुर होती हैं और वे जब चाहें तब बहादुर हो सकती हैं। इसलिए महिलाएं कभी नहीं डरतीं. तनाव से निपटने में वे पुरुषों से भी बेहतर हैं।

कामुकता का अर्थ है किसी के प्रति रोमांटिक और शारीरिक रूप से आकर्षित महसूस करना। आचार्य चाणक्य ने कहा था कि महिलाएं इस आकर्षण को पुरुषों की तुलना में अधिक महसूस कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ये भावनाएँ 8 गुना अधिक हो सकती हैं। इसका मतलब यह है कि पुरुषों में महिलाओं की तुलना में ये भावनाएँ 8 गुना कम हो सकती हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.