अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

ये होती है चरित्रहीन महिलाओं की पहचान, जाने, समझे और रहें इनसे दूर

न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, नई दिल्ली

इन्हीं नीतियों का पालन करके लोगों ने विश्व भर में अपना वर्चस्व स्थापित किया है और सिक्कों का संग्रह भी किया है। आचार्य चाणक्य द्वारा लिखी गई ये नीतियां आज भी उतनी ही प्रासंगिक हैं जितनी तब लिखी गई थीं।

इन नीतियों का पालन करने से व्यक्ति को जीवन में सही दिशा मिलती है। आचार्य चाणक्य ने अपनी पुस्तक चाणक्य नीति में चरित्रहीन महिलाओं के बारे में भी बताया है। जिन्हें जानकर आप भी चरित्रहीन महिलाओं के बारे में जान सकते हैं:

चाणक्य नीति के अनुसार छोटी गर्दन वाली महिलाएं फैसलों के लिए दूसरों पर निर्भर रहती हैं। इसके अलावा जिन स्त्रियों की गर्दन की लंबाई चार अंगुल से अधिक होती है उनकी संतान नष्ट हो जाती है।

चपटी गर्दन वाली महिलाओं का स्वभाव बहुत गुस्सैल और क्रूर होता है। इसके अलावा अगर इन महिलाओं के गालों पर डिंपल पड़ जाएं तो इनका चरित्र अच्छा नहीं होता है। इसके अलावा जिन महिलाओं की आंखें पीली और डरावनी होती हैं तो ऐसी महिलाओं का स्वभाव काफी खराब होता है।

जिन महिलाओं के कानों पर बहुत बाल होते हैं और उनका आकार असमान होता है, वे घर में क्लेश का कारण बनती हैं। जिन महिलाओं के दांत निकले हुए होते हैं उनके जीवन में हमेशा दुखों के बादल छाए रहते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.