अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

Kia कारों की कीमतों में होगी भारी वृद्धि, जानिए कितना महंगा होगा आपका सपनों का मॉडल

ऑटोमेकर ने कहा कि यह निर्णय कमोडिटी की बढ़ती कीमतों और सप्लाई-चैन से संबंधित इनपुट के कारण लिया गया है। किआ ने इस बात पर भी जोर दिया कि यह इस साल ब्रांड का पहला मूल्य समायोजन था।
किआ ने प्रत्येक मॉडल पर मूल्य वृद्धि की मात्रा का खुलासा नहीं किया है, लेकिन आप मॉडल और वैरिएंट के आधार पर कीमतों में बढ़ोतरी की उम्मीद कर सकते हैं।

किआ सोनेट ब्रांड की सबसे सस्ती कार है, जिसकी कीमत 7.99 लाख से शुरू होकर 14.69 लाख तक जाती है। किआ कैरेंस एमपीवी की कीमत 10.45 लाख से शुरू होकर 18.95 लाख रुपये तक जाती है। किआ सेल्टोस ब्रांड की बेस्टसेलर है और इसकी कीमत 10.90 लाख से शुरू होकर 20.30 लाख तक जाती है। यह सभी कीमतें एक्स-शोरूम की हैं।

किआ इंडिया हेड ने क्या कहा?

प्राइस हाइक पर टिप्पणी करते हुए हरदीप सिंह बराड़ (सेल्स एंड मार्केटिंग के इंडिया हेड, किआ इंडिया) ने कहा कि किआ में हम लगातार अपने सम्मानित ग्राहकों को प्रीमियम और तकनीकी रूप से एडवांस प्रोडक्ट देने का प्रयास करते हैं।

हालांकि, कमोडिटी की कीमतों में लगातार वृद्धि, प्रतिकूल विनिमय दर और बढ़ती इनपुट लागत के कारण, हम आंशिक मूल्य वृद्धि लागू करने के लिए मजबूर हैं। कंपनी वृद्धि का एक महत्वपूर्ण हिस्सा अवशोषित कर रही है, जिससे ग्राहक अपनी पसंदीदा किआ कारों को अपनी जेब पर कोई बड़ा बोझ डाले बिना चलाना जारी रख सकेंगे।

भारत में किआ की शानदार बिक्री

किआ भारतीय ऑटो सेक्टर में सबसे प्रमुख खिलाड़ियों में से एक है, जिसने 2019 में अपने एंट्री के बाद से बिक्री चार्ट पर उल्लेखनीय बढ़त हासिल की है। ऑटोमेकर ने भारत और विदेशों में लगभग 1.16 मिलियन यूनिट्स बेची हैं, जिसमें सेल्टोस ने 6.13 लाख यूनिट्स का योगदान दिया है।

इसमें सोनेट ने 3.95 लाख से ज्यादा यूनिट्स और कैरेंस ने अब तक 1.59 लाख यूनिट्स जोड़ी हैं। ऑटोमेकर देश में EV6 प्रीमियम इलेक्ट्रिक एसयूवी की भी बिक्री करता है, जो पूरी तरह से निर्मित CBU यूनिट के रूप में आती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.