अब इंडिया रहेगा ऑनलाइन

1 अप्रैल से ट्रेन यात्रा में होगा यह बड़ा बदलाव, जानिए क्या है तैयारी

गौरतलब है कि रेलवे अब बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों से क्यूआर कोड स्कैन करेगा और जुर्माना वसूलेगा।

रेलवे के इस कदम से यात्रियों को भी फायदा होगा. यदि कोई यात्री यात्रा के दौरान बिना टिकट पकड़ा जाता है और उसके पास नकदी नहीं है, तो वह डिजिटल भुगतान करके जेल जाने से बच सकता है। इसके लिए रेलवे चेकिंग स्टाफ को हैंड हेल्ड टर्मिनल मशीन मिलेगी।

देश भर के कई स्टेशनों पर चेकिंग स्टाफ को हैंड हेल्ड टर्मिनल मशीनें भी मिली हैं। अन्य स्थानों पर भी इसे जल्द शुरू करने का प्रयास किया जाएगा। इससे ट्रेन में चलने वाले सभी टीटीई किसी भी यात्री से ऑनलाइन जुर्माना वसूल सकेंगे. यात्री को मशीन पर लगे क्यूआर कोड को अपने मोबाइल से स्कैन करना होगा।

रेलवे के इस कदम से पारदर्शिता आएगी और टिकट चेकिंग करने वाले कर्मचारी अवैध वसूली के आरोपों से बच जाएंगे. रेलवे के इस कदम से नकद लेनदेन में कमी आएगी. अब रेलवे टिकट खरीदने के लिए भी QR का इस्तेमाल करेगा.

इसके अतिरिक्त, क्यूआर कोड पार्किंग और फूड काउंटरों पर भी उपलब्ध हैं। यात्री टिकटों का ऑनलाइन भुगतान करने के लिए टिकट काउंटर पर क्यूआर सुविधा उपलब्ध है। इससे यात्रियों को नकदी न लेने में आसानी होगी।

यात्री स्टेशन पर पार्किंग, खानपान और शौचालय के लिए ऑनलाइन भुगतान भी कर सकेंगे। इसके अलावा पार्सल के लिए जुर्माना भी ऑनलाइन वसूला जा सकता है. रेलवे ने पारदर्शिता को बढ़ावा देने के लिए इस कदम को महत्वपूर्ण बताया है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.