भ्रष्टाचार के मामले में गुरुग्राम कॉरपोरेशन के तीन कर्मचारी गिरफ्तार

गुरुग्राम, 7 मई (आईएएनएस)। गुरुग्राम नगर निगम के तीन कर्मचारी एक लाख रुपये की रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किए गए हैं।

पुलिस ने शनिवार को बताया कि जूनियर इंजीनियर सुमित, हितेश और ड्राइवर करन को गिरफ्तार किया गया है।

देवीलाल कॉलोनी के हरीश ने इनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। हरीश का कहना था कि वह अपने परिवार के साथ गत 25 साल से इलाके में रह रहे थे।

गुरुवार को तीनों आरोपी शिकायतकर्ता के निर्माणाधीन आवास पर आये और कहा कि उनका घर गिरा दिया जायेगा क्योंकि यह अवैध रूप से बनाया जा रहा है। एक आरोपी हितेश ने फिर जेई से बात की और कहा कि वह घर नहीं गिराने के लिये एक लाख रुपये की रिश्वत लेंगे।

शिकायतकर्ता ने उन्हें उसी दिन 50 हजार रुपये दे दिये और शेष राशि दो से तीन दिन में देनी की बात की। हितेश लेकिन शुक्रवार को ही वापस आया और उसने घूस की बाकी रकम मांगी।

शिकायतकर्ता ने इस पर अपने पड़ोसियों को बुला लिया और पूरी घटना की वीडियो बनाकर पुलिस को बुला लिया। सुमित को भी मौके पर बुलाया गया और फिर तीनों आरोपी गिरफ्तार कर लिये गये।

गुरुग्राम पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि तीनों के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच अभी जारी है।

–आईएएनएस

एकेएस/आरएचए

Leave A Reply

Your email address will not be published.