home page

सावधान! ना करें ये गलती वरना आप भी फंस जाएंगे WhatsApp के Scam जाल में, जल्द पढ़े पूरी खबर

अगर आप भी WhatsApp चलाते हैं, तो आपके लिए बहुत बड़ी खबर हम आपके लिए लेकर आये हैं।
 | 
सावधान! ना करें ये गलती वरना आप भी फंस जाएंगे WhatsApp के Scam जाल में, जल्द पढ़े पूरी खबर

अगर आप भी WhatsApp चलाते हैं, तो आपके लिए बहुत बड़ी खबर हम आपके लिए लेकर आये हैं। आपको बता दें कि असम सीआईडी ने वाट्सऐप को लेकर काफी खतरनाक स्कैम को सामने लाया हैं और वाट्सऐप चलाने वाले लोगों को चेतावनी जारी की हैं। अगर आप सावधान नहीं रहे तो आपका भी काफी बड़ा आर्थिक नुकसान हो सकता हैं। क्या हैं पूरी खबर जानने के लिए विस्तार से पढ़ें।

आपको बता दें कि हाल ही में असम सीआईडी ने वाट्सऐप पर चल रहे गोरखधंधे का पर्दाफाश किया है। इस नए स्कैम में स्कैम करने वाले ग्रुप काफी अलग तरीके से यूजर के साथ स्कैम करने की कोशिश करते हैं और इसका सबसे बड़ा कारण है कि व्हाट्सएप फेमस हैं और लगातार फेमस होता जा रहा है।

जिसके कारण वाट्सऐप यूजर लगातार इन हैकर के निशाने पर रहते हैं। कई बार ऐसा होता हैं, कि व्हाट्सएप यूजर इन हैकर्स के शिकार हो जाते हैं और उनको काफी बड़ा आर्थिक नुकसान झेलना पड़ता हैं।

ये हैकर बैंकिंग, सरकारी डिपार्टमेंट की ओर से मैसेज भेजे जाने का दावा कर यूजर को निशाने पर लेने की कोशिश करते हैं। इसमें उनका मकसद टारगेट को अपनी बातों में फंसा कर पैसे चुराने और व्हाट्सएप यूजर की पर्सनल डिटेल्स हासिल करने का होता हैं।

इसको लेकर असम के क्रिमिनल इन्वेस्टीगेशन डिपार्टमेंट ने व्हाट्सएप यूजर को चेतावनी दी हैं। सीआईडी ने इसको लेकर एक पब्लिक एडवाइजरी जारी की हैं। ऑनलाइन तरीके से जाने-माने अफसर का प्रोफाइल फोटो और नाम का यूज करके। व्हाट्सएप यूजर को गिफ्ट कार्ड जैसे जाने-माने तरीके से मनी कलेक्ट करते थे। लोगों को गुमराह करने के लिए स्कैमर्स ने मुख्यमंत्री तक का फोटो यूज कर लिया था।

आपको बता दें कि इनके काम करने का तरीका काफी अलग होता था। फ्रॉडस्टर्स सीनियर फंक्शनरी की कॉन्टैक्ट लिस्ट का अनऑथोराइज्ड एक्सेस गेन कर लेते हैं। इसके बाद वो किसी खास संस्थान की सभी जानकारी के साथ इसके कर्मचारियों की जानकारी ऑफिशल वेबसाइट से कलेक्ट कर लेते थे।

इसके बाद स्कैमर लोगों को मैसेज कर फ्रॉड करने की पूरी कोशिश करते थे। यूजर्स को कहा गया हैं, कि ऐसे मैसेज या ईमेल्स के चक्कर में ना पड़े अगर आपको भी इस तरीके के मैसेज आते हैं, तो खरीदारी के लिए पेमेंट करने के लिए लिंक पर क्लिक करने से पहले संबंधित अधिकारी से इसके बारे में बेवफाई कर ले ऐसे नंबर को लेकर साइबर सेल में शिकायत दर्ज करने के साथ-साथ व्हाट्सएप को भी शिकायत दर्ज करवाएं।