हरियाणा : जिला प्रशासन ने बुधवार को खोला संगतपुरा गांव का बॉर्डर, बस सेवा भी हुई बहाल

किसान आंदोलन 2.0 के कारण हरियाणा के कैथल में बंद पड़े गुहला के टटियाना से सटे पंजाब बॉर्डर खोलने के बाद अब खनौरी मांग पर संगतपुरा गांव के बॉर्डर भी जिला प्रशासन ने बुधवार को खोल दिया है। इन बॉर्डरों के खुलने के बाद बस सेवा भी शुरू कर दी गई है। रोडवेज विभाग ने यात्रियों की परेशानी को देखते हुए अब पातड़ा व संगरूर के लिए भी बस सेवा शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि पिछले पिछले 40 दिन से पातड़ा व संगरूर जाने वाले यात्री भी काफी कठिनाइयों का सामना कर रहे थे। इस कारण उन्हें गांवों के छाेटे-छोटे रास्तों से लंबी दूरी तय करते हुए परेशान होना पड़ता था। अब इस रूट पर भी बस सेवा शुरू होने के बाद पंजाब से आने-जाने वाले वाहन चालकों व अन्य यात्रियों को राहत मिलेगी।

कैथल को पंजाब से जोड़ने वाला दूसरा रास्ता है संगतपुरा बॉर्डर

गौरतलब है कैथल जिले में पटियाला के साथ ही पातड़ा की सीमा भी लगती है। ऐसे में संगतपुरा बॉर्डर कैथल को पंजाब से जोड़ने वाला दूसरा रास्ता है। जो खनौरी से पातड़ा होते हुए संगरूर जिले में जाता है। इस रास्ते पर कैथल की खनौरी से दूरी महज करीब 40 किलोमीटर की ही है।

कुछ दिन पहले ही गुहला के टटियाना से सटे पंजाब बॉर्डर खुलने के बाद पटियाला व समाना के लिए बस सेवा को शुरू कर दिया गया था। परंतु अभी तक खनौरी मार्ग पर संगतपुरा बॉर्डर के रास्ते को नहीं खोला गया था। अब इस रास्ते के खुलने के बाद हरियाणा रोडवेज ने खनौरी व पातड़ा जाने वाली बस सेवा को पुन शुरू कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *