Split AC या Window AC: कौन सा आपके बिजली बिल को बढ़ाता है? एसी खरीदने से पहले जान लें

0

अगर आप भी एसी लेना चाह रहे हैं लेकिन कन्फ्यूज हैं कौन सा खरीदा जाएं विंडो या फिर स्प्लिट। कौन ज्यादा बिजली बिल की बचत करता हैं? तो आज हम आपकी इन सभी सवालों के जवाब को लेकर हाजिर हैं कि आखिर आपके लिए कौन का एसी बेहतर रहेगा।

किस एसी का आता है ज्यादा बिल?

कई लोगों का वहम है कि विंडो एसी में स्प्लिट एसी की तुलना में कम बिजली खपत करता हैं। इतना ही नहीं कई बार लोग ये भी सोचते हैं कि विंडो एसी का साइज छोटा होता है लेकिन इसमें यूनिट एक होती है इसलिए बिल कम आता है। लेकिन, ऐसा बिल्कुल नहीं है स्प्लिट एसी की तुलना में विंडो एसी का ज्यादा बिजली बिल आता है।

ये विंडो एसी मार्केट में स्प्लिट एसी की तुलना में भले ही थोड़े सस्ते मिल जाते हैं। लेकिन, आप जितने पैसे में खरीदेंगे उससे ज्यादा तो आपको बिल भरना पड़ जाएगा। जानकारी के लिए आपको बता दें कि एक विंडो एसी सामान्य तौर पर 900 से लेकर 1400 वाट प्रति घंटे के हिसाब से बिजली की खपत करता है।

लेकिन जब आप कूलिंग बढ़ाने के लिए AC का टेम्प्रेचर कम करते हैं तो कंप्रेसर पर ज्यादा फोर्स पड़ता है और इससे बिजली बिल ज्यादा आने के चांस बने रहते है।वहीं आपको बता दें कि स्प्लिट एसी कई तरह की लेटेस्ट टेक्नोलॉजी जैसे कन्वर्टेबल और इनवर्टर टेक्नोलॉजी में आता हैं। शायद यही वजह है कि स्प्लिट एसी पावर सेविंग कर कम बिजली खपत करता है।

छोटे रूम के लिए विंडो एसी हैं सही

अगर आपका कमरा काफी छोटा है तो आप विंडो एसी खरीद सकते हैं लेकिन बड़े कमरे के लिए स्प्लिट एसी ठीक है। छोटे कमरे को विंडो एसी 24 डिग्री से लेकर 26 डिग्री पर भी ठंडा कर देता है।

टेम्प्रेचर अधिक रखने से बिजली की खपत कम होगी जिससे अधिक बिल नहीं आएगा। विंडो एसी का एक सबसे बड़ा फायदा यह भी होता है कि इसे लगवाने के लिए आपको कमरे में तोड़फोड़ की जरूरत नहीं पड़ती और यह स्प्लिट के मुकाबले सस्ती कीमत में खरीदने को मिल जाते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.