Hyundai की “यह” कार बनी बेस्टसेलर, बाकी 10 मॉडल की बिक्री में गिरावट

क्रेटा कंपनी के लिए एकमात्र ऐसा मॉडल है जिसकी 10 हजार से ज्यादा यूनिट बिकीं। हुंडई की सेल्स में चौंकाने वाली बात ये है कि क्रेटा को छोड़कर अन्य सभी 10 मॉडल को ईयरली बेसिस पर डिग्रोथ का सामना करना पड़ा। क्रेटा की दम पर कंपनी ने 1% की ईयरली ग्रोथ दर्ज की है। हुंडई के लिए टक्सन और आयोनिक 5 सबसे कम बिकने वाले मॉडल रहे। वहीं, कोना ईवी का तो खाता भी नहीं खुला। चलिए आपको हुंडई की सेल्स के आंकड़े दिखाते हैं।

हुंडई की सेल्स की बात करें तो क्रेटा की 15,447 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 14,186 यूनिट का था। यानी सालाना आधार पर इसकी 1,261 यूनिट ज्यादा बिकीं और इसे 8.89% की ईयरली ग्रोथ मिली। वेन्यू की 9,120 यूनिट बिकीं।

जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 10,342 यूनिट का था। यानी सालाना आधार पर इसकी 1,222 यूनिट कम बिकीं और इसे 11.82% की डिग्रोथ मिली। एक्सटर की 7,756 यूनिट बिकीं। i20 की 5,199 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 6,472 यूनिट का था। यानी सालाना आधार पर इसकी 1,273 यूनिट कम बिकीं और इसे 19.67% की डिग्रोथ मिली।

i10 निओस की 5,117 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 6,839 यूनिट का था। यानी सालाना आधार पर इसकी 1,722 यूनिट कम बिकीं और इसे 25.18% की डिग्रोथ मिली। ऑरा की 4,526 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 5,085 यूनिट का था।

यानी सालाना आधार पर इसकी 559 यूनिट कम बिकीं और इसे 10.99% की डिग्रोथ मिली। वरना की 1,571 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 4,001 यूनिट का था। यानी सालाना आधार पर इसकी 2,430 यूनिट कम बिकीं और इसे 60.73% की डिग्रोथ मिली।

अल्काजार की 1,219 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 2,037 यूनिट का था। यानी सालाना आधार पर इसकी 818 यूनिट कम बिकीं और इसे 40.16% की डिग्रोथ मिली। टक्सन की 201 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 550 यूनिट का था।

यानी सालाना आधार पर इसकी 349 यूनिट कम बिकीं और इसे 63.45% की डिग्रोथ मिली। आयोनिक 5 की 45 यूनिट बिकीं। जबकि अप्रैल 2023 में ये आंकड़ा 189 यूनिट का था। यानी सालाना आधार पर इसकी 144 यूनिट कम बिकीं और इसे 76.19% की डिग्रोथ मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *