G20 की अध्यक्षता करेगा भारत, देशभर में होंगी 200 से अधिक बैठकें

नई दिल्ली: भारत इस साल के अंत में G20 सम्मेलन की अध्यक्षता करेगा. दिसंबर 2022 से 30 नवंबर, 2023 तक देशभर में भारत की अध्यक्षता में G20 की 200 से अधिक बैठकें होंगी. विदेश मंत्रालय ने भारत की अध्यक्षता में होने वाले G20 सम्मेलन से जुड़ी घोषणाएं की है.

भारत को 1 दिसंबर 2022 से G20 की अध्यक्षता मिलेगी. विदेश मंत्रालय ने बताया कि राष्ट्राध्यक्षों/शासनाध्यक्षों के स्तर पर G20 देशों के नेताओं का शिखर सम्मेलन 9 और 10 सितंबर, 2023 को नई दिल्ली में आयोजित होने वाला है.

मालूम हो कि G20 दुनिया के विकसित और विकासशील देशों का संगठन है. इसके सदस्य अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, रिपब्लिक ऑफ कोरिया, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, यूके, अमेरिका और यूरोपियन यूनियन हैं. यानी 19 देश और यूरोपियन यूनियन समेत कुल मिलाकर G20 के 20 सदस्य हैं. G20 दुनिया की 85 फीसदी जीडीपी और 75 प्रतिशत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और दो तिहाई आबादी का प्रतिनिधित्व करता है.

भारत वर्तमान में G20 Troika का सदस्य है. इसमें भारत के अलावा इंडोनेशिया और इटली है. इंडोनेशिया मौजूदा में G20 का सदस्य है जबकि इटली पिछले साल अध्यक्ष था और भारत आनेवाला अध्यक्ष है. इसकी अध्यक्षता के दौरान, भारत, इंडोनेशिया और ब्राजील ट्रोइका का निर्माण करेंगे. यह पहली बार होगा जब ट्रोइका में तीन विकासशील देश और उभरती अर्थव्यवस्थाएं शामिल होंगी. जो उन्हें एक मजबूत आवाज प्रदान करेगी.

G20 सदस्यों के अलावा सम्मेलन और बैठकों में अंतर्राष्ट्रीय संगठनों और अतिथि देशों को भी आमंत्रित किया जाता है. भारत अपनी अध्यक्षता में बांग्लादेश, मिस्र, मॉरिशस, नीदरलैंड्स, नाइजीरिया, ओमान, सिंगापुर, स्पेन और संयुक्त अरब अमीरात को अतिथि देशों के तौर पर आमंत्रित करेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *