मां बनने के बाद 40 दिन तक जरूर बरतें ये सावधानियां, जल्द होगी रिकवरी

नई दिल्ली, 13 सितम्बर, 2023 : मां बनना एक खूबसूरत एहसास होता है। जब कोई महिला मां बनती है, तो उसे फिजिकल और इमोशनल कई तरह के बदलावों से जुझना पड़ता है। कई महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान तो अपना खूब ख्याल रखती हैं लेकिन एक बार जब बेबी का जन्म हो जाता है, तो वह खुद को भूल सिर्फ बेबी के कामों में रम जाती हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि डिलीवरी के बाद पहले 40 दिन के पीरियड्स को डिलीवरी की रिकवरी टाइम में काउंट किया जाता है। फिर चाहें डिलीवरी ऑपरेशन से हुई हो या फिर नॉर्मल। बच्चे के जन्म के बाद मां को 40 दिन तक खास देखभाल की जरुरत होती है।

कहते हैं कि इस दौरान अगर सावधानियां ना बरती जाएं तो फ्यूचर में शरीर से जुड़ी परेशानी बढ़ सकती हैं। यहां जानिए डिलीवरी के बाद 40 दिन तक किन सावधानियो को बरतें।

डिलीवरी के बाद 40 दिन तक बरतें ये सावधानियां :

इंटरनल सैनिटरी प्रोडक्ट्स

इस दौरान इंटरनल सैनिटरी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से बचें। बच्चे के जन्म देने के बाद, आपको योनि से ब्लीडिंग होती है। जो 2 से 6 सप्ताह तक रह सकता है। इस दौरान मैटरनिटी पैड या सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा है।

इस दौरान टैम्पोन और मेन्स्ट्रुअल कप के इस्तेमाल से बचें क्योंकि जहां प्लेसेंटा गर्भाशय की दीवार से जुड़ा हुआ है वह घाव इस समय तक ठीक नहीं होगा। ऐसे में इन चीजों के इस्तेमाल से इंफेक्शन हो सकता है।

ध्यान रखें कि इस दौरान पैड नियमित रूप से बदलें और बदलने से पहले और बाद में अपने हाथ धोएं। इसके अलावा गुनगुने पानी से प्राइवेट पार्ट को धोएं, इस एरिया को साफ रखें।

फिजिकल और मेंटल हेल्थ पर दें ध्यान

इस दौरान अपनी हेल्थ और फिलिंग्स  पर नजर रखें। क्योंकि किसी भी समस्या का अगर जल्दी पता चल जाए तो कम से कम नुकसान होगा। इस समय पर ध्यान रखें कि दवाएं लेने के बाद भी कहीं दर्द बढ़ तो नहीं रहा।

इसके अलावा टांके चेक करें कि कहीं स्राव तो नहीं हो रहा। वहीं लगातार सिरदर्द, बुखार, बदबूदार योनि स्राव, हैवी और लगातार ब्लीडिंग जैसी समस्याएं होने पर डॉक्टर से बात करें। 

ना करें हैवी एक्सरसाइज

प्रसव के 6 हफ्ते बाद तक हैवी व्यायाम से दूर रहें। डॉक्टर की सलाह पर कम तीव्रता व्यायाम से शुरुआत करें। प्रसव के तुरंत बाद व्यायाम करने से आपकी मांसपेशियां स्ट्रेस में आ सकते हैं। इसकी वजह से मांस फटना,, कमर दर्द, ब्लीडिंग और टांकों पर प्रेशर आ सकता है।

विटामिन खाएं

प्रेग्नेंसी खत्म हो गई है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपके शरीर को गर्भावस्था के दौरान लिए गए आवश्यक मिनरल्स और विटामिन की जरूरत नहीं है। डिलीवरी के बाद भी शरीर को इन जरूरी पोषक तत्वों की जरूरत होती है।

कब्ज से बचें

डिलीवरी के बाद कब्ज एक बहुत ही सामान्य समस्या है। ये कई वजहों से होता है, जैसे बच्चे के जन्म के दौरान खिंचाव, आयरन अनुपूरण, प्रसवोत्तर बवासीर, हार्मोनल परिवर्तन, दवाएं आदि। इससे बचने के लिए डॉक्टर से सलाह लें। इसके अलावा खाने में फाइबर की मात्रा बढ़ाएं और खूब पानी पीएं। 

सेक्स न करें

बच्चे के जन्म के बाद योनि के ऊतक पतले और अधिक संवेदनशील हो जाते हैं। दोबारा सेक्स करने से पहले अपने शरीर को कुछ समय देना जरूरी है। अधिकांश डॉक्टर प्रसव के बाद चार से छह हफ्ते तक इंतजार करने की सलाह देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *