यूरीनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन को घरेलू तरीके से भी किया जा सकता है ठीक, जाने कारण और उपाय

नई दिल्ली, 18 सितम्बर, 2023 : हाल के दिनों में मूत्र पथ की समस्याएं बढ़ती जा रही हैं। यह समस्या खासतौर पर महिलाओं में देखी जाती है। आइए जानते हैं असल समस्या क्यों होती है और इस समस्या से बाहर निकलने के लिए क्या करना चाहिए। यूटीआई कई जटिलताओं का कारण बन सकता है। मूत्र मार्ग में संक्रमण और किडनी में संक्रमण का खतरा रहता है।

मूत्र पथ के संक्रमण के कई कारण होते हैं। उचित आहार न लेने, जंक फूड, फास्ट फूड का लगातार सेवन करने या मूत्र मार्ग में पथरी या गर्मी होने पर यह समस्या होती है। यूटीआई की अधिकतर जटिलताएँ संक्रमण के कारण होती हैं। 

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन शरीर में कई समस्याएं पैदा कर सकता है। पेशाब करते समय दर्द, बार-बार पेशाब आना, पेशाब में खून आना, पेल्विक दर्द, किडनी की समस्या, पीठ के निचले हिस्से में दर्द। यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन की समस्या से राहत पाने के लिए सबसे पहले खान-पान और जीवनशैली में बदलाव लाना होगा।

जितना हो सके उतना पानी पियें। अधिक पानी पीने से मूत्र मार्ग से बैक्टीरिया और विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। इसलिए जितना हो सके कॉफी और चाय का सेवन कम करना चाहिए।

प्रोबायोटिक्स से भरपूर भोजन का सेवन करना चाहिए। ये रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं और बीमारियों से लड़ते हैं। रोजाना फाइबर युक्त भोजन करना चाहिए। फाइबर युक्त भोजन खाने से पाचन क्रिया आसान हो जाती है और शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और आंतें साफ हो जाती हैं।

इसके लिए केले के फल, जींस, सब्जियां, साबुत अनाज और नट्स का सेवन करना चाहिए। अधिक सैल्मन खाने से इसमें मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड के कारण यूटीआई की सूजन कम हो सकती है।

अगर आपको मछली पसंद नहीं है तो आपको क्रैनबेरी और ब्लूबेरी का सेवन करना चाहिए। हरी सब्जियों से भी आप यूटीआई की समस्या से राहत पा सकते हैं। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *