ग्राहकों का भरोसा टूटा! 7 महीने में 1 लाख बुकिंग वाली SUV 1 साल में ही हुई टॉप-10 से बाहर

टाटा नेक्सन दूसरी पोजीशन से लिफ्ट होकर 6वें नंबर पर पहुंच गए। ये नेक्सन के लिए पिछले कई महीनों के बाद सबसे बड़ी गिरावट है। हालांकि, हम यहां बात नेक्सन की नहीं बल्कि एक ऐसी SUV की करने वाले हैं, जो कभी भारतीय बाजार की शान बन चुकी थी। इसकी डिमांड के सामने नेक्सन के साथ हुंडई क्रेटा भी पीछे छूट गई थीं। अब ये SUV टॉप-10 की लिस्ट से पूरी तरह बाहर हो चुकी है। इस SUV का नाम किआ सेल्टोस है।

अप्रैल में जिन SUVs को सबसे ज्यादा खरीदा गया उसकी टॉप-10 में सेल्टोस का नाम नहीं है। बल्कि, 11वीं पोजीशन पर भी मारुति ग्रैंड विटारा है। फिलहाल सेल्टोस की सेल्स के आंकड़े नहीं आए हैं, लेकिन इसकी डिमांड सोनेट की तुलना कम हो चुकी है।

बता दें क सोनेट टॉप-10 SUVs की लिस्ट में 9वें नंबर पर रही। सोनेट की 7,901 यूनिट बिकीं। वहीं, 11वें नंबर पर रहने वाली ग्रैंड विटारा की 7,651 यूनिट बिकीं। यानी सेल्टोस की इससे भी कम यूनिट बिकी हैं। मार्च में सेल्टोस की 7,912 यूनिट बिकी थीं। यानी इसकी डिमांड में मंथली बेसिस पर कमी आई है।

7 महीने में 1 लाख बुकिंग मिली

सेल्टोस की सेल में चौंकाने वाली बात ये है कि जुलाई 2023 में इसका फेसलिफ्ट मॉडल लॉन्च किया था। लॉन्चिंग के बाद से इसकी बुकिंग का आंकड़ा 1 लाख के पार कर गया। कि इस आंकड़े तक पहुंचने में इसे 7 महीने का वक्त लगा। यानी हर महीने इसकी 14,285 यूनिट, हर दिन 476 यूनिट और हर घंटे करीब 20 यूनिट (19.83 यूनिट) बुक हुईं।

सेल्टोस फेसलिफ्ट का ऑटोमैटिक वैरिएंट ग्राहकों को ज्यादा पसंद आ रहा है। कंपनी के मुताबिक, कुल बुकिंग में 50% हिस्सेदार AMT की है। वहीं, 40% ग्राहकों को ADAS वैरिएंट पसंद आया है। इसके बाद भी ये SUV टॉप-10 की लिस्ट में शामिल नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *